April 16, 2021

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

अजब गजब: पंचायत चुनाव में प्रत्याशी को खुद का भी नहीं मिला वोट, भगवन भला करे शून्य मिला नहीं तो चुनाव करवा देता पति-पत्नी का तलाक…जानिए क्या है पूरा मामला

बिलासपुर, 04 फ़रवरी 2020। पंचायत चुनाव के दौरान एक अनोखा मामला सामने आया जब सरपंच पद के प्रत्याशी को मतगणना के दौरान कोई भी मत प्राप्त नहीं हुए। यानि शून्य वोट मिले। प्रत्यासी इस टेंशन में आ गया की खुद को भी वोट नहीं दिया क्या???

वो भला करे भगवान् चुनाव कराने वालों का नहीं तो अगर एक वोट मिल जाता अगर प्रत्यासी को तो, पत्नी पर शक करता कि पत्नी ने किसी और को वोट दे दिया और नौमत घर में युद्ध की हो सकती थी तलाक भी हो जाता। परन्तु ऊपर वाले ने घर की रक्षा की या अधिकारियों ने की प्रत्यासी को एक भी वोट नहीं मिले और प्रत्यासी का शक घर की वजाय वोट कराने वालों पर हो गया.

शून्य वोट पाकर प्रत्यासी की जमानत जब्त हो गयी जबकि उसके परिवार में ही 12 सदस्य हैं। शारीरिक रूप से दिव्यांग प्रत्याशी रमेश ने मामले में दुख जताते हुए पीठासीन अधिकारी की प्रक्रिया की शिकायत अनुविभागीय अधिकारी के साथ गौरेला थाने में भी की है । मामला मरवाही जनपद पंचायत क्षेत्र के पिपरिया ग्राम पंचायत का है जहां सरपंच पद के प्रत्याशी रहे रमेश कुमार मरावी को ट्यूबलाइट छाप का चुनाव चिन्ह आवंटित किया गया रमेश ने भी चुनाव जीतने की लालसा में हैंड बिल और पंपलेट छपवा कर अपना प्रचार घर-घर किया शारीरिक रूप से दिव्यांग रमेश ने मतदान और मतगणना के दौरान बार-बार खड़े होने और बैठने से बचने के लिए अपने एक एजेंट की नियुक्ति कर दी मतदान के दौरान सब कुछ सुचारू रूप से चलता रहा।

जब मतगणना का वक्त आया तब पीठासीन अधिकारी ने रमेश के प्रतिनिधि के बार-बार आपत्ति दर्ज कराने पर आपत्ति करते हुए उसे मतगणना केंद्र से बाहर कर दिया और दरवाजा भी बंद कर दिया । और जब रिजल्ट आया तो रमेश के पैरों तले जमीन खिसक गई मतगणना के बाद रमेश को एक भी वोट प्राप्त नहीं हुए उसके वोटों की संख्या शून्य 0 बताई गई । उन्होंने बताया कि माता-पिता भाई-बहन बहू और पत्नी के साथ मेरे परिवार के सदस्यों की संख्या ही 12है। यदि मैं मान लूं कि माता-पिता के अलावा भाई बहनों ने भी मुझे वोट नहीं किया पत्नी ने भी वोट नहीं किया तो भी मेरा खुद का वोट कहां गया क्या मैं अपने आप को भी वोट नहीं करूंगा?

प्रत्यासी का वायरल शिकायत पत्र
Spread the love