छत्तीसगढ़

कनक तिवारी बने राज्य के नए एडवोकेट जर्नल, राज्य शासन ने आदेश जारी किया

रायपुर। बिलासपुर हाईकोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता कनक तिवारी राज्य के नए महाधिवक्ता बनाए गए हैं। इसका आदेश राज्य शासन ने जारी कर दिया है।

26 जुलाई 1940 को जन्मे कनक तिवारी ने अंग्रेजी साहित्य के प्राध्यापक के रूप में अपने कैरियर की शुरूआत की। इसके बाद 1971 में रविशंकर विश्वविद्यालय से एलएलबी की परीक्षा में स्वर्ण पदक लेकर वकालत का व्यवसाय चुना। कनक तिवारी ने कई किताबें लिखी हैं। जिसमें संविधान का सच, संविधान का पड़ताल, गांधी और पंचायती राज तथा गांधी का देश, फिर से हिंद स्वराज, बस्तर : लाल क्रांति बनाम ग्रीन हंट, हिंद स्वराज का सच प्रमुख है।

आपको बता दें कि भूपेश बघेल के सीएम बनते ही राज्य के महाअधिवक्ता जुगल किशोर गिल्डा ने इस्तीफा दे दिया था। गिल्डा ने अपना इस्तीफा राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को भेजा था। इसके साथ ही उन्होंने इसकी कापी कार्यवाहक मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, राज्य के मुख्य सचिव अजय सिंह और कानून और विधायी मामलों के प्रमुख सचिव रविशंकर शर्मा को भेज था। महाराष्ट्र नागपुर के रहने वाले गिल्डा 2014 में राज्य के महाअधिवक्ता बनाए गए थे।

Spread the love