बड़ी खबरछत्तीसगढ़

खबर जरा हट के: शासन प्रशासन से शिकायत के बाद नहीं होती कायवाही से त्रस्त फरियादी ने आत्मदाह करने कलेक्टोरेट गेट के सामने सजाई खुद की चिता, मचा हड़कंप… जानिए क्या है पूरा मामला…..

रायगढ़, 13 फ़रवरी 2020. रायगढ़ में उस समय अजीबो गरीब हालत निर्मित हो गयी जब एक फरियादी अपनी शिकायत में कार्यवाही नहीं होने से त्रस्त होकर आत्मदाह के लिए जिला कलेक्टोरेट के सामने ही अपनी चिता सजा ली. चिटा सजाते ही अफरा तफरी मच गयी और मौके पर आनन फानन में पुलिस आ पहुंची।

दरअसल रायगढ़ जिले में एक ​फरियादी ने कलेक्ट्रोरेट के सामने गुरुवार को खुद की चिता सजा दी. पुलिस और प्रशासन शिकायत की अनदेखी का आरोप लगाते हुए फरियादी चिता पर बैठ भी गया और आत्मदाह की कोशिश करने लगा. वो खुद को आग लगाता इतने में पुलिस मौके पर पहुंच गई और उसे रोक लिया. इतना ही नहीं पुलिस ने आरोपी को अपने हिरासत में भी ले लिया और चिता की लकड़ियां और अन्य सामग्री को जब्त किया.

रायगढ़ कलेक्टोरेट गेट के सामने फरियादी ने सजाई खुद की चिता, आग लगने से पहले ही पुलिस ने रोका
चिता बनाकर कलेक्टोरेट के सामने बैठा शिकायतकर्ता सतीश अग्रवाल

प्राप्त जानकारी के अनुसार रायगढ़ का रहने वाले सतीश अग्रवाल ने कलेक्टोरेट के गेट के सामने खुद की चिता सजा ली. सतीश का आरोप है कि उसने जमीन विवाद के एक मामले में पुलिस और प्रशासन से कई बार शिकायत की. राजधानी रायपुर तक प्रशासन के चक्कर लगाए, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई है. इसलिए तंग आकर उसने खुद की जान देने की कोशिश की. सतीश को चक्रधर पुलिस ने हिरासत में लिया है. सतीश अग्रवाल के अनुसार जानकी धर्मशाला के पास खरसिया में उसकी बहन का मकान है. बहन के मकान में लंबे समय से विजय शराफ का कब्जा है. कब्जा खाली करवाने वो लंबे समय से प्रशासन के चक्कर लगा रहा है. कई बार शिकायत के बाद भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई. इतना ही नहीं उसे मानसिक रूप से प्रताड़ित भी किया जाने लगा, जिससे तंग आकर उसने ये कदम उठाए.

Spread the love

Comment here