December 4, 2020

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

नक्सल गढ़ में चार साल से बन रहा पुल अभी भी सुरुआती दौर में , गांव के लोग जान जोखिम में डालकर कर रहे नदी पार

बीजापुर।एसजी न्यूज। इस साल मॉनसून ने छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के तिमेड गांव के निवासियों पर प्रतिकूल असर डाला है। गांव वासियों को अपने जीवन को खतरे में डालकर नावों के माध्यम से यात्रा करने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार एक अस्थायी पुल बनाया था जो लगातार बारिश के बाद भी यह ध्वस्त हो गया।
अब गांव के स्थानीय लोगों को छोटी नावों पर इंद्रवती नदी पार करने के लिए मजबूर होना पड़ता है। यह सभी तरह से कट गए हैं, भारी बारिश के कारण यहां मोबाइल नेटवर्क भी नहीं है।
एक स्थानीय निवासी ने कहा “पुल का निर्माण चार साल पहले शुरू हुआ था। हालांकि, यह अभी भी शुरुआती चरणों में है और मुझे नहीं लगता कि यह जल्द ही तैयार होगा।”

वर्षा के चलते इंद्रवती नदी का जल स्तर बढ़ गया है जिससे ग्रामीणों के लिए नौकाओं के माध्यम से यात्रा करना अधिक खतरनाक हो गया है।
एक अन्य व्यक्ति ने कहा, “राज्य सरकार को जल्द ही समाधान के साथ आने की जरूरत है। साथ ही, उन्हें कुछ सुरक्षा प्रदान करनी चाहिए क्योंकि ग्रामीणों के जीवन खतरे में हैं।” (स्रोत एएनआई)

Spread the love

You may have missed