January 16, 2021

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

दुखद घटना: छत्तीसगढ़ में पुलिस द्वारा अपने एक आरक्षक को इलाज के लिए भी छुट्टी न देने से हुई मौत!

सूरजपुर। एसजी न्यूज। राजेश सोनी। प्रदेश भर में अपनी मांगों को लेकर पुलिस आरक्षक परिवार छुट्टी नही मिलने जैसे कई मांगों को लेकर सरकार के खिलाफ आंदोलन के लिए लामबंद है, वही शनिवार को सूरजपुर जिला से इलाल के लिए भी छुट्टी नही मिलने से एक आरक्षक की दुखद मौत हो गयी। आरोप है कि पुलिस की प्रताडना और उचित ईलाज के अभाव मे आखिरकार आरक्षक की हुई मौत, आरक्षक का नाम विवेक एक्का है जो मलेरिया बुखार से पिडित था। मृतक ने पुलिस लाईन के सुबेदार से ईलाज के लिये छुटटी भी मांगा पर सुबेदान ने नही दी जिससे उसकी शनिवार को मौत हो गई। सूत्रों के मुताबिक विवेक एक्का आरक्षक क्रमांक 486 विगत एक माह से था मलेरिया बुखार से पीड़ित था, वह 20 तारिख को पुलिस लाईन मे आकर आमद भी दिया पर उसे छुट्टी न देकर एसपी कार्यालय भेज दिया गया। दिनभर इस कार्यालय से उस कार्यालय भेजते रहे। 22 तारीख को उसकी तबियत ज्यादा खराब होने पर सुबेदार से उसने हास्पीटल मे भर्ती होने को कहा पर उसे हास्पीटल नही भेजा गया जिससे मौत हो गई, फिलहाल मृतक विवेक का शव उसके गृह नगर अम्बिकापुर भेज दिया गया है। जवाबदार अधिकारी आरक्षक की मौत के कारण पर सीधा जवाब देने से बचते रहे।

गौरतलब है कि इन दिनो पुलिस परिवार की महिलाओ ने जवानो की सुविधा विस्तार को लेकर मोर्चा खोल रखा है साथ ही प्रदेशभर के पुलिस के आला अधिकारी पुलिस परिवार के महिलाओ के धरना रैली आंदोलन में पहुचने से रोकने के लिए तरह तरह के हथकडे अपना रही है उसी दौरान एक आरक्षक की मौत का कारण छुट्टी न मिलना कही पुलिस परिवार के रायपुर में 25 तारीख को होने वाले धरना प्रदर्शन आंदोलन को कही उग्र ना कर दे।

Spread the love

You may have missed