January 24, 2021

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

प्रदेश भर में काली पट्टी बांधकर अनियमित कमर्चारियों का विरोध जारी, देखिये तस्वीरें

रायपुर। एसजी न्यूज। प्रदेश भर के अनियमित कर्मचारी 3 जुलाई से धरने पर चले गए हैं। धरना की सुरुआत में आक्रामकता और बड़ी संख्या होने के बाद कांग्रेस का समर्थन मिलते ही सरकार ने भी बातचीत करने में में देरी नही की। 3 जुलाई की ही रात में विपक्ष के नेता टी. एस. सिंह देव 12 विधायकों के साथ धरना स्थल पर समर्थन देने पहुचे और कहा कि कांग्रेस की सरकार आयी तो मांगे पूरी की जाएंगी।

काली पट्टी बांधकर कलेक्टर बीजापुर को ज्ञापन सौंपते कर्मचारी

इधर सरकार की तरफ से रायपुर कलेक्टर ओपी चौधरी भी प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने रात में ही पहुच गए। सरकार जब भी धरने के कारण आफत में आती है धरना खत्म कराने का जिम्मा रायपुर कलेक्टर ओपी चौधरी को दिया जाता है। सफलता पूर्वक वे सभी धरनों को खत्म भी करते रहे हैं। रायपुर कलेक्टर और प्रदर्शनकारियों के बीच हुई बातचीत सार्थक रही और कलेक्टर की ओर से इस बात की सूचना दी गयी कि सरकार मांगो पर विचार कर रही है जिसके लिए 5 दिन का समय दिया गया है। कलेक्टर के आश्वासन के बाद सभी प्रदर्शनकारियों ने अनिशिचत कालीन हड़ताल को 5 दिन के लिए स्थगित करते हुए काम पर लौटने का निर्णय लिया।
जनपद पंचायत कोरबा में विरोध करते कर्मचारी

काम पर भी विरोध दर्ज कराने का फैसला लिया गया जिसमें पांच दिन तक काम पर अनियमित अनियमित कर्मचारी काली पट्टी बांधकर आएंगे। यदि 5 दिवस के भीतर कोई कार्यवाही नही होती तो पुनः अनिश्चित कालीन हड़ताल पर सभी अनियमित कर्मचारी जाएंगे।
जिला बस्तर में एकजुट कर्मचारी

प्रदेशभर में इन कर्मचारियों का पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन जारी है। प्रदेश भर से आई तस्वीरों ने इनकी एकता और विरोध को प्रदर्शित कर रहा है ।
जिला पंचायत बलौदाबाजार की तस्वीर

क्या हैं इनकी मांगे
1 प्रदेश के सभी अनियमित कर्मचारी, अधिकारी का नियमितीकरण
2 जॉब सिक्योरिटी
3 विगत दो तीन वर्षों में छंटनी किए हुए अनियमित कर्मचारियों की बहाली
4 समान काम समान वेतन
काली पट्टी बांधकर दवाई करती एक डॉक्टर

कार्यालय में काली पट्टी बांधकर कार्यकर्ता एक कर्मचारी

Spread the love

You may have missed