छत्तीसगढ़

बलरामपुर गैंगरेप मामला: विधानसभा में आज भी चला चाबुक, 7 पुलिसकर्मी सीएम के घोषणा करते ही निलंबित, मुख्यमंत्री ने कहा बर्खास्त भी किया जा सकता है…

रायपुर, 27 फ़रवरी 2020। बलरामपुर ज़िले के टांगरमहरी में बालिका से गैंगरेप और प्रकरण में पुलिस की लापरवाही का आरोप सतापक्ष के विधायक बृहस्पति सिंह ने लगाते हुए मसले को उठाया। मंत्री टीएस सिंहदेव ने भी इस प्रकरण में पुलिस की भूमिका को प्रश्नांकित कर दिया।

इस मामले के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने घोषणा की कि इस मामले में लापरवाही के दोषी बताए गए सभी सात पुलिसकर्मियों को निलंबित किया जाता है। CM भूपेश बघेल ने आगे कहा कि अगर इसमें दोषियों को बर्खास्त करने लायक़ होगा तो बर्खास्त भी किया जाएगा।

बता दे कि बलरामपुर टांगरमहरी में दो बालिकाओं के अपहरण की कोशिश हुई थी। एक किशोरी बच निकली जबकि एक अन्य के साथ गैंगरेप हुआ था। मामले में विधायक बृहस्पति सिंह ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया था। जिसके बाद बलरामपुर टीआई को लाईन अटैच कर दिया गया था।

कौन कौन हुए निलंबित?
प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के ऐलान के बाद-

  1. TI उमेश बघेल,
  2. अखिलेश सिंह,
  3. केपी सिंह,
  4. जोहान,
  5. सुधीर, अ
  6. जय और
  7. शशि तिर्की तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिए गए हैं।
Spread the love

Comment here