April 16, 2021

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

बाल अधिकार संरक्षण आयोग की चौपाल

छत्तीसगढ़ राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष श्रीमती प्रभा दुबे रायपुर जिले के ग्राम धरसीवा में ग्रामीणों और बच्चों के लिए आयोजित चौपाल कार्यक्रम में शामिल हुई। उन्होंने चौपाल में बच्चों के अधिकारों और उनके संरक्षण से जुड़े कानूनी पहलूओं पर चर्चा की। उन्होंने ग्रामीणों से बाल भिक्षावृत्ति, नशावृत्ति, जैसी बुराईयों को समाज से निकाल फेकने के लिए एकजुट होकर सहयोग करने की अपील की।
श्रीमती प्रभा दुबे कहा कि बच्चों को उनके अधिकारों और कर्त्तव्यों के बारे में जागरूक करने की पहल घर से ही करनी होगी ताकि बच्चे संस्कारवान नागरिक बन सकें। बच्चों को शोषण से बचाने के लिए पारिवारिक स्तर पर बातचीत भी जरूरी है और इसके लिए समाज के हर व्यक्ति को जागरूक होना चाहिए। इस कार्यक्रम में धरसीवा के ग्रामीणों ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। गांव के सरपंच श्री करीम खान ने आयोग द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम की प्रशंसा की और कहा कि हम सब इस मुहीम में आयोग के साथ हैं। उल्लेखनीय है कि इस चौपाल आयोजन छत्तीसगढ़ बाल संरक्षण आयोग द्वारा बच्चों और ग्रामीणों को बाल अधिकार से जुड़े और सुरक्षा से जुड़े विभिन्न कानूनों विशेषकर किशोर न्याय अधिनियम पॉक्सो एक्ट, शिक्षा के अधिकार के बारे में जागरूक करने के उद्देश्य से किया गया था। इस कार्यक्रम में आयोग की सदस्य श्रीमती इन्दिरा जैन, परियोजना अधिकारी श्री रविन्द्र ताम्रकार, पर्यवेक्षकों और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं सहित बड़ी संख्या में बच्चे और ग्रामीण मौजूद थे।

Spread the love