January 23, 2021

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

बड़ी खबर: धान खरीदी के विरोध में पूरा जिला बन गया शाहीन बाग़!! 6 दिन से जिले के सभी हाईवे जाम, हाईवे पर ही किसानों ने धान से भरे वाहन किये खड़े, थमें 4000 से अधिक ट्रकों के पहिए प्रशासन को नहीं सूझ रहा रास्ता….

कवर्धा, 26 फ़रवरी 2020. प्रदेश भर में धान खरीदी को लेकर सरकार और किसानों के बीच घमासान जारी है. इसी बीच कवर्धा में 20 फरवरी की शाम 4 बजे से शुरू किया गया हाइवे पर चक्काजाम 6 दिन बाद भी जारी है. किसान अपनी एक सूत्रीय मांग पर अड़े हुए हैं. किसानों के इस प्रदर्शन के चलते कवर्धा से गुजरने वाले एक नेशनल हाईवे समेत 5 हाईवे पर आवागमन बंद है. इससे करीब 4000 से अधिक ट्रकों के पहिए सड़क पर ही थम गए हैं. विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों से बातचीत के लिए कोई पहल सरकार की ओर से नहीं की गई है.

क्या है किसानों की मांग?
किसानों की मांग है कि सरकार ने तय समय सीमा में जिन किसानों को धान बेचने का टोकन जारी किया था, उनके धान खरीदे जाएं. यदि सरकार के पास बारदाने नहीं हैं तो किसान अपना बारदाना भी देने को तैयार हैं. लेकिन अब तक सरकार की ओर से उनकी मांगों पर कोई ठोस निर्णय नहीं लिया गया है. इससे परेशानी बढ़ती जा रही है.

कौन कौन से हाइवे में है चक्काजाम?
कवर्धा जिले में किसान पांच जगहों पर चक्का जाम करके रखे हैं. इनमे-

  1. रायपुर-जबलपुर नेशनल हाइवे।
  2. कवर्धा-रायपुर,
  3. कवर्धा-बिलासपुर,
  4. कवर्धा-राजनांदगांव और
  5. कवर्धा-बेमेतरा स्टेट हाई जाम है.

बीजेपी ने दिया समर्थन
किसानों के इस प्रदर्शन को बीजेपी ने समर्थन दिया है. पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह ने भी किसानों के प्रदर्शन को समर्थन दिया है. वे धरना स्थल पर भी पहुंच सकते हैं.

Spread the love

You may have missed