छत्तीसगढ़

बड़ी खबर: राजधानी से लगे पंचायत में मतदान दल को सरपंच पद के प्रत्याशी के समर्थकों ने बनाया बंधक….तीन बजे रात पहुंची पुलिस… जानिए क्या हुआ पूरा वाकया….

रात तकरीबन 3 बजे मतदान दल को छुड़ाया गया. फिलहाल, मतदान दल को वापस रायपुर ले आया गया है.

रायपुर, 29 जनवरी 2019. राजधानी रायपुर से लगे जनपद में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के पहले चरण का मतदान मंगलवार को किया है. हालांकि मतदान शांतिपूर्ण रहा लेकिन मंदिर हसौद इलाके में मतदान दल को बंधक बनाने की खबर सामने आ रही है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार रि काउंटिंग के बाद रिजल्ट जारी किया गया. इससे सरपंच प्रत्याशी के समर्थकों नाराज हो गए और मतदान दल को ही तकरीबन तीन घंटे तक बंधक बनाए रखा. मामला की जानकारी मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे. रात तकरीबन 3 बजे मतदान दल को छुड़ाया गया. फिलहाल, मतदान दल को वापस रायपुर ले आया गया है.

क्या है मामला
मंदिर हसौद थाना क्षेत्र के गोढी गांव में सरपंच प्रत्याशी के समर्थकों पर मतदान दल को बंधक बनाने का आरोप लगा है. करीब 3 घंटे तक मतदान दल को बंधक बनाया गया था. बताया जा रहा है कि मतदान दल में 5 लोग शामिल थे जिन्हें बंधक बनाया गया. दरअसल, सरपंच पद के प्रत्याशी घनश्याम बैस को वोटों की काउंटिंग के बाद विजयी घोषित किया गया लेकिन रि काउंटिंग में घनश्याम के बजाय गोपाल ढ़ीमर को ज्यादा वोट मिले और विजयी घोषित किया गया जिससे नाराज होकर घनश्याम बैस के समर्थकों ने मतदान दल को बंधक बनाया था. पुलिस के आला अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर मतदान दल को छुड़ाया.

Spread the love

Comment here