January 23, 2021

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

भाषण देते-देते ये क्या कह गए अमिताभ बच्चन को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री की चारो तरफ होने लगा विरोध

भोपाल (एसजी न्यूज़) नेता भाषण देना सुरु करते है तो फर इतिहास से लेकर वर्तमान का सामान्य ज्ञान सब बदल देते हैं। इसी कड़ी में आज बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए भाषण देते वक्त मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जुबान फिसल गई और उन्होंने सदी के महानायक अमिताभ बच्चन को उन हस्तियों में शुमार कर लिया, जिन्होंने बिना किसी खास शैक्षिक डिग्री के शानदार सफलता हासिल की। कांग्रेस ने इस बयान के लिए शिवराज की आलोचना करते हुए इसे भोपाल के जमाई की बेइज्जती करार दिया।

एक करियर काउन्सलिंग प्रोग्राम में कम नंबर पाने वाले स्टूडेंट्स को मोटिवेट करने गए शिवराज ने कहा, ‘महान कवि कालिदास एक बार पेड़ पर बैठ कर उसी डाल को काट रहे थे, जिस पर वह बैठे हुए थे। नोबल पुरस्कार विजेता रवीन्द्रनाथ टैगोर ने औपचारिक स्कूली शिक्षा छोड़ दी थी। महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने परीक्षाओं में अच्छे अंक हासिल नहीं किए थे।’

शिवराज ने आगे कहा, ‘आप सभी ने बॉलिवुड सुपरस्टार अमिताभ बच्चन का नाम सुना होगा, जिन्होंने कौन बनेगा करोड़पति शो को होस्ट किया था। उनके पास कोई भी अच्छी फॉर्मल डिग्री नहीं है। उन्हें एक बार आवाज की वजह से आकाशवाणी से निकाल दिया गया था, लेकिन आज देखिए, आवाज ही उनकी पहचान है। अगर आप अपने जोश को बरकरार रखेंगे और इन जैसी हस्तियों के जीवन से सबक लेंगे तो फिर आपको कभी भी अच्छे नंबरों की जरूरत नहीं पड़ेगी।’

चुनावी मौसम को देखते हुए कांग्रेस ने ‘जमाई’ अमिताभ पर शिवराज कि टिप्पणी को उनकी बेइज्जती करार दिया। गौरतलब है कि अमिताभ की पत्नी जया बच्चन भोपाल की ही रहने वाली हैं। विपक्ष के नेता अजय सिंह ने कहा, ‘यह भोपाल के दामाद की बेइज्जती है। मैं समझ नहीं पाता हूं कि मुख्यमंत्री इस तरह की बयानबाजी क्यों करते हैं। जब अमिताभ बच्चन ने बतौर प्रफेशनल काम करना शुरू कर दिया था, उस वक्त शिवराज चौहान बच्चे रहे होंगे।’

आपको बता दें कि अमिताभ बच्चन ने प्रतिष्ठित शेरवुड कॉलेज तथा दिल्ली यूनिवर्सिटी के किरोड़ीमल कॉलेज से पढ़ाई की है। वह हिंदी के प्रसिद्ध कवि हरिवंश राय बच्चन के पुत्र हैं।

Spread the love

You may have missed