April 16, 2021

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के निर्देश पर राजस्व और आपदा प्रबंधन विभाग ने युद्धस्तर पर विशेष अभियान शुरू

सूखा प्रभावित किसानों को मुआवजा वितरण के लिए मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के निर्देश पर राजस्व और आपदा प्रबंधन विभाग ने युद्धस्तर पर विशेष अभियान शुरू कर दिया है। विभागीय अधिकारियों ने आज यहां मंत्रालय (महानदी भवन) में बताया कि पिछले वर्ष खरीफ 2017 के दौरान प्रदेश के 27 में से 21 जिले अल्पवर्षा के कारण सूखे से प्रभावित हुए थे।
राजस्व और आपदा प्रबंधन विभाग के अधिकारियों ने आज यहां बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देशों के अनुरूप विभाग द्वारा इन जिलों को मुआवजा बांटने के लिए लगभग 609 करोड़ 70 लाख रूपए का आवंटन जारी किया जा चुका है। यह राशि नौ लाख 50 हजार 452 प्रभावित किसानों को दी जा रही है। अब तक इसमें 435 करोड़ 49 लाख रूपए का वितरण हो चुका है। मुआवजा वितरण के लिए आवंटन राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 के प्रावधानों के तहत संबंधित जिला कलेक्टरों को जारी किया गया है। अधिकारियों ने बताया-मुख्यमंत्री के निर्देश हैं कि कोई भी सूखा प्रभावित किसान मुआवजा राशि से वंचित न रहे, इसका पूरा ध्यान रखा जाए। डॉ. सिंह इन दिनों चल रहे प्रदेश व्यापी लोक सुराज अभियान के तहत जिलों के अपने दौरे में और समीक्षा बैठकों में अधिकारियों से मुआवजा वितरण की प्रगति की जानकारी ले रहे हैं।
रायपुर जिले को आवंटित 16 करोड़ 30 लाख रूपए में से 14 करोड़ रूपए से ज्यादा मुआवजा दिया जा चुका है। रायपुर जिले में 20 हजार 943 सूखा प्रभावित किसानों को यह राशि दी जा रही है। महासमुन्द जिले के 30 हजार 510 सूखा प्रभावित किसानों के लिए 25 करोड़ रूपए आवंटित किए गए हैं। इसमें से अब तक 11 करोड़ रूपए का वितरण हो चुका है। धमतरी जिले के 22 हजार 275 प्रभावित किसानों के लिए 16 करोड़ 30 लाख रूपए का आवंटन जारी किया गया है। इसमें से अब तक 10 करोड़ 51 लाख रूपए का मुआवजा दिया जा चुका है। दुर्ग जिले को 34 हजार 244 किसानों के लिए 24 करोड़ 88 लाख रूपए आवंटित किए गए हैं। अब तक लगभग 19 करोड़ 46 लाख रूपए का वितरण हो चुका है। राजनांदगांव जिले को 140 करोड़ 65 लाख रूपए दिए गए हैं। वहां के दो लाख 34 हजार 815 किसानों को यह राशि दी जा रही है। अब तक 119 करोड़ 43 लाख रूपए से ज्यादा मुआवजा दिया जा चुका है। कबीरधाम जिले को 45 हजार 112 किसानों के लिए 26 करोड़ 30 लाख रूपए आवंटित किए गए हैं। अब तक 14 करोड़ 63 लाख रूपए से ज्यादा राशि वितरित की जा चुकी है। कांकेर जिले के 32 हजार 649 प्रभावित किसानों के लिए 43 करोड़ 72 लाख रूपए का आवंटन जारी किया गया है। इसमें से अब तक 18 करोड़ 69 लाख रूपए से ज्यादा मुआवजा दिया जा चुका है। दंतेवाड़ा जिले को वहां के 19 हजार 619 किसानों के लिए 14 करोड़ 80 लाख रूपए आवंटन दिया गया है। इसमें से अब तक 11 करोड़ 04 लाख रूपए का वितरण हो चुका है। अधिकारियों ने बताया कि बिलासपुर जिले को 76 हजार 056 प्रभावित किसानों के लिए 45 करोड़ रूपए का आवंटन दिया गया है। वहां अब तक 42 करोड़ 88 लाख रूपए का वितरण किया जा चुका है। विभागीय अधिकारियों के अनुसार जांजगीर-चांपा जिले को 7144 किसानों के लिए पांच करोड़ 50 लाख रूपए दिए गए हैं। इसमें से दो करोड़ 84 लाख रूपए का वितरण हो गया है। कोरबा जिले को सूखा प्रभावित 3461 किसानों के लिए दो करोड़ 10 लाख रूपए आवंटित किए गए हैं। वहां अब तक एक करोड़ 77 लाख रूपए से ज्यादा राशि बांटी जा चुकी है। रायगढ़ जिले को 36 हजार 552 किसानों के लिए 19 करोड़ रूपए का आवंटन दिया गया है। अब तक वहां करीब 16 करोड़ 62 लाख रूपए वितरित किए जा चुके हैं।
राजस्व और आपदा प्रबंधन अधिकारियों के अनुसार कोरिया जिले को 21 हजार 169 किसानों के लिए 17 करोड़ 30 लाख रूपए दिए गए हैं। इसमें से वहां लगभग आठ करोड़ 14 लाख रूपए का वितरण कर दिया गया है। बीजापुर जिले को दस हजार 304 सूखा प्रभावित किसानो के लिए नौ करोड़ रूपए आवंटित किए गए हैं। वहां इसमें से अब तक लगभग सात करोड़ 18 लाख रूपए का वितरण हो गया है। नारायणपुर जिले को 7665 किसानों के लिए सात करोड़ 92 लाख रूपए दिए गए हैं। इसमें से एक करोड़ 61 लाख रूपए का वितरण हो गया है। गरियाबंद जिले को 34 हजार 164 किसानों के लिए 20 करोड़ 10 लाख रूपए का आवंटन जारी किया गया है। जिला प्रशासन द्वारा वहां अब तक 12 करोड़ 15 लाख रूपए से ज्यादा मुआवजा दिया जा चुका है। राजस्व अधिकारियों ने बताया कि बलौदाबाजार-भाटापारा जिले को एक लाख 32 हजार 599 किसानों के लिए 60 करोड़ 75 लाख रूपए का आवंटन दिया गया है। इसमें से अब तक 38 करोड़ 25 लाख रूपए बांटे जा चुके हैं।
अधिकारियों ने बताया कि बालोद जिले को 25 हजार 940 प्रभावित किसानों के लिए 20 करोड़ रूपए आवंटित किए गए हैं। वहां अब तक 15 करोड़ 06 लाख रूपए से ज्यादा मुआवजा बांटा जा चुका है। अधिकारियों ने बताया कि बेमेतरा जिले में एक लाख 17 हजार 125 किसानों के लिए 75 करोड़ 39 लाख रूपए का आवंटन जारी किया गया है। इसमें से अब तक 55 करोड़ 16 लाख रूपए का वितरण हो गया है। मुंगेली जिले को 22 हजार 094 किसानों के लिए 10 करोड़ 88 लाख रूपए दिए गए हैं। वहां अब तक 12 करोड़ 23 लाख रूपए का मुआवजा वितरित किया जा चुका है। कोण्डागांव जिले को 16 हजार 052 किसानों के लिए 8 करोड़ 80 लाख रूपए दिए गए हैं। वहां अब तक दो करोड़ 80 लाख रूपए से ज्यादा मुआवजा वितरित किया जा चुका है।

Spread the love