January 16, 2021

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

रायगढ़ : धान के समर्थन मूल्य में वृद्धि से किसानों के जीवन में आएगी खुशहाली : संचार क्रांति योजना के तहत ग्रामीण परिवार एवं विद्यार्थियों को मिलेगा मोबाईल फोन

मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह की मासिक रेडियोवार्ता ‘रमन के गोठ’ की 35वीं कड़ी आकाशवाणी एफएम रेडियो तथा दूरदर्शन सहित विभिन्न टेलीविजन चैनलों के माध्यम से प्रसारित हुई। इसी तारतम्य में रायगढ़ विकासखण्ड के ग्राम रेगड़ा के शासकीय प्राथमिक शाला में ग्रामवासियों ने सामूहिक रूप से उत्साह के साथ रमन के गोठ को सुना। इस मौके पर सरपंच श्री कुशराम राठिया, पंच भगवानदीन डनेसना, हरिराम सारथी, कोटवार जगदीश डनसेना, विकासखण्ड परियोजना अधिकारी साक्षर भारत श्री रामदीन गुप्ता, दिनेश निषाद, शांति खाखा, चमेली राठिया, सर्वनाथ डनसेना सहित बड़ी संख्या में रेगड़ा के ग्रामवासी उपस्थित थे।

रमन के गोठ में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेशवासियों को आगामी रथ उत्सव, हरेली तिहार एवं डॉ.खूबचंद बघेल जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रधानमंत्री फसल बीमा, धान के समर्थन मूल्य में वृद्धि और संचार क्रांति योजना के बारे में जानकारी दी। डॉ. सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ में 7 करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य है। उन्होंने सभी से कहा कि बरसात के दिनों में अधिक से अधिक पेड़ लगाए और पर्यावरण को संरक्षित करें।

मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा धान के समर्थन मूल्य में 200 रूपए प्रति क्ंिवटल की वृद्धि किए जाने के बारे में बताते हुए कहा कि इस बार अब प्रदेश के किसानों को धान की बिक्री में 300 रूपए बोनस सहित 2050 रूपए प्रति क्विंटल समर्थन मूल्य मिल सकेगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि इसी तरह प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत छत्तीसगढ़ के 14 लाख 60 हजार किसानों को 1294 करोड़ रूपए का भुगतान किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने प्रदेश में शुरू की जा रही संचार क्रांंति योजना की जानकारी देते हुए बताया कि इसके तहत सभी ग्रामीण परिवार तथा शहरी गरीब परिवारों एवं समस्त महाविद्यालयों के छात्र-छात्राओं को 50 लाख मोबाइल फोन वितरित किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने शिक्षाकर्मियों के संविलयन पर कहा कि इससे स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ेगी। पहले चरण में ऐसे एक लाख तीन हजार शिक्षकों का संविलियन स्कूल शिक्षा विभाग में करने का निर्णय लिया गया, जिनकी सेवाएं 1 जुलाई 2018 को आठ वर्ष पूर्ण हो चुकी हैं। इसके पश्चात अगले क्रम में 8 वर्ष पूर्ण करते जाने वाले शिक्षकों का भविष्य में संविलियन किया जाएगा। इन सभी को अब नियमित शिक्षकों की भांति सातवें वेतन आयोग के समान वेतन, भत्ते एवं अन्य सुविधाएं जैसे अनुकम्पा नियुक्ति, पदोन्नति तथा स्थानांतरण आदि सुविधा प्राप्त होगी। मुख्यमंत्री ने अभिभावकों से अपने बच्चों को नियमित रूप से स्कूल भेजने को भी कहा।

रमन के गोठ को सुनने के बाद ग्राम रेगड़ा के सर्वनाथ डनसेना ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री ने शिक्षाकर्मियों को संविलियन करके बड़ा ही पूण्य काम किया है। अब ऐसे समस्त शिक्षक जो संविलियन की श्रेणी में आ गए है उनका भविष्य उज्जवल हो जाएगा। उन्होंने इसके लिए मुख्यमंत्री डॉ. सिंह को हृदय से धन्यवाद ज्ञापित किया है। रेगड़ा की चमेली राठिया ने मोबाईल वितरण की जानकारी सुनकर खुशी से गदगद हो गई। उन्होंने कहा कि मैं अब अपनी बेटी से फोन पर बात करके उसका हाल-चाल पूछ सकती हूं। वहीं गांव के ही पद्मलोचन चौहान ने धान के समर्थन मूल्य में 200 रूपए प्रति क्ंिवटल की बढ़ोत्तरी को सुनकर बहुत खुश हुआ और उन्होंने इसके लिए प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया।

Spread the love

You may have missed