March 3, 2021

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

रीवा जिले में बिजली पानी को तरस रहे ग्रामीणों ने मतदान बहिष्कार करने का लिया शपथ। अधिकारी से लेकर मुख्यमंत्री तक कर चुके शिकायत, ऊर्जा मंत्री राजेन्द्र शुक्ला के पैतृक निवास से लगा है गांव।

रीवा। रीतेश तिवारी। जिले के देवतालाब विधानसभा क्षेत्र के हटवा सौरेहान गाँव के सैकड़ो किसानों ने आगामी 28 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करने का फैसला किया है। सैकड़ो किसानों ने मतदान न करने की सामूहिक शपथ ली है। किसानों का कहना है कि देवतालाब के बिजली विभाग के अधिकारियों की प्रताड़ना के चलते ये अहम निर्णय लिया गया है।

किसानों ने एसजी न्यूज़ को बताया कि पिछले 6 महीने से गाँव मे बिजली नही दी जा रही। कभी कभार लो वोल्टेज भेज कर बिजली विभाग के अधिकारी खानापूर्ति कर लेते है। बिजली के अभाव के चलते खेत की सिंचाई समय पर नही कर पाए। खेती से वंचित हो गए है। बोरवेल कराने का कोई मतलब नही निकला। चार किलोमीटर दूर नलकूप से पीने के लिए पानी ला रहे है। दिन हो या रात बिजली बंद है जिससे पूरा गांव प्रभावित है।

स्थानीय विधायक गिरीश गौतम से लेकर बिजली विभाग के अधिकारियों से कई बार शिकायत की गई लेकिन कोई सुधार नही किया गया। दो दर्जन से ज्यादा सीएम हेल्प लाइन में भी शिकायत दर्ज कराई गई फिर भी कोई निराकरण नही हुआ। पिछले 6 महीनों से सैकड़ो किसान परेशान है । लेकिन कोई सुनने वाला नही। गाव के किसानों के साथ इस तरह का सौतेला व्यहार किया जा रहा है जैसे हम सब दूसरे मुल्क से आये हो। गाव के किसानों ने खुलेआम जिला प्रशासन को चेतवानी दी है कि अगर 24 घंटे में हमारी बिजली की समस्या का निराकरण नही होता तो 28 नवंबर को सैकड़ो किसान मतदान का बहिष्कार कर देंगे और आगामी दिनों में जल्द ही हजारो किसान जिला प्रशासन के दफर के सामने अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल करने को मजबूर हो जाएंगे। गाव के किसान हेतराम दुवेदी, विजय कुमार दुवेदी,राजभान दुवेदी,राजेन्द्र प्रसाद दुवेदी,इंद्रजीत दुवेदी, दिनेश प्रसाद पांडे,रामेश्वर रजक, रामदयाल रजक,रजनी रजक,राममणि पांडे, सवर्ण कुमार पांडे, प्रदीप पांडे, केसरी प्रसाद पांडे समेत सैकड़ो किसानों ने मतदान न करने की शपथ ली है।

Spread the love

You may have missed