February 25, 2021

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

छत्तीसगढ़ में एक और हाथी की करंट से मौत, ग्रामीण दंपति वन विभाग की हिरासत में… पीसीसीएफ एवं एपीसीसीएफ (वाइल्ड लाइफ) पहुंचे घटना स्थल पर

जशपुर, 24/07/2020। छत्तीसगढ़ में हाथियों की मौत। का सिलसिला अभी तक थमा नहीं है। नया एक मामला जशपुर से आया है, जहां शुक्रवार सुबह हाथी का मिला है। बताया जा रहा है कि हाथी की मौत मकान के बाहर बाड़ी के किनारे लगाए गए तारबाड़ के करंट की चपेट में आकर हुई है। वहीं इस मामले में कार्रवाई करते हुए वन विभाग की टीम ने इस मामले में दंपति को हिरासत में ले लिया है। वहीं दंपति का कहना है कि आत्मरक्षा की कोशिश में हाथी की जान गई है।

मिली जानकारी के अनुसार यह घटना तपकरा थाना क्षेत्र के झिलीबेरना की है, जहां झिलीबेरना गांव निवासी रंजीत केरकेट्टा और उसकी पत्नी आनंद केरकट्टा ने अपने मकान के चारों ओर तार लगा रखा है। दरअसल पहले भी हाथी यहाँ कई बार घर तोड़ चुके हैं जिसके कारण रोज रात में इसमें करंट चालू कर देते हैं। इसके चलते शुक्रवार सुबह एक दंतैल हाथी की करंट की चपेट में आकर मौत हो गई। हाथी की उम्र करीब 30 वर्ष बताई जा रही है। सूचना मिलने पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और हाथी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

पीसीसीएफ एवं एपीसीसीएफ (वाइल्ड लाइफ) पहुंचे घटना स्थल पर

घटना की जानकारी मिलते ही रायपुर से पी.वी. नरसिम्हा राव, पीसीसीएफ (वाइल्ड लाइफ) एवं अरुण पांडेय, एपीसीसीएफ (वाइल्ड लाइफ) घटना स्थल के लिए रवाना हो गए. अरुण पांडेय, एपीसीसीएफ (वाइल्ड लाइफ) ने एसजी न्यूज़ को बताया की घटना स्थल पहुंचकर मामले की जानकारी ली गयी है. कई रहवासी एवं किसान घर और फसल को हाथी से बचने के लिए अपने घरों से बाउंड्री में बिजली कनेक्शन जोड़ देते है. इसी के कारण यहाँ एक हाथी की मौत हुई है. लोगों को सुरक्षा के लिए बिजली के करेंट की जगह अल्टेरनेट व्यवस्था करने पर विचार किया जा रहा है.

Spread the love

You may have missed