छत्तीसगढ़

10 डिसमिल जमीन नामांतरण के लिए 5 लाख के रिश्वत! ACB ने भ्रष्ट तहसीलदार को रागे हाथों किया गिरफ्तार

जशपुर 27 अगस्त 2020. एंटी करप्सन ब्यूरो ने गुरुवार को जशपुर तहसील पहुंचकर तहसीलदार को 50 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है इस कार्रवाई से पूरे प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मच गया है। आरोप के अनुसार तहसीलदार ने मात्र 10 डिसमिल जमीन के नामांतरण के लिए 5 लाख की रिश्वत की मांग की थी.

दरअसल तहसील कार्यालय जशपुर में पदस्थ तहसीलदार कमलेश कुमार मिरे की नामांतरण के नाम पर रिश्वत लेने की शिकायत लंबे समय से मिल रही थी। इसी तरह शिकायतकर्ता से भी 10 डिसमिल जमीन के नामांतरण के लिए मिरे 5 लाख रुपए की रिश्वत मांग रहा था। इससे पीड़ित ने इसकी शिकायत एसीबी कार्यालय में की। एसीबी (ACB) के अधिकारियों ने पीड़ित को तहसीलदार से डील करने के लिए भेजा। डील के मुताबिक पहली किस्त ₹50 हजार लेने के लिए तहसीलदार ने पीड़ित को अपने कार्यालय बुलाया। जैसे ही पीड़ित एसीबी के पाउडर लगे नोट लेकर तहसीलदार के पास पहुंचा और उसे दिया एसीबी की टीम ने छापा मारकर तहसीलदार को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया है।

Spread the love