June 20, 2021

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

छत्तीसगढ़ में टीके की डोज को लेकर बड़ा भ्रम, प्रमुख सचिव कह रहे टीका ख़त्म हो गय,,,, डीपीआर की विज्ञप्ति में 1 लाख से अधिक डोज है, इधर cgteeka वेबसाइट में स्लॉट बुकिंग को लेकर आम नागरिक परेशान

रायपुर, 21 मई 2021, पूरे देश भर में कोरोना की वैक्सीन का टीका लगाने को लेकर जद्दोजहद मची हुई है यह भी सही है कि केंद्र सरकार की टीका खरीदी और राज्यों को वितरण को लेकर गलत नीतियों के कारण राज्य भी वैक्सीन की उपलब्धता को लेकर परेशान हैं। छत्तीसगढ़ ने अपना खुद का वेबसाइट 18-44 वर्ष के उम्र के लोगों के लिए https://cgteeka.cgstate.gov.in/ बनाया है। जो रोज विवादों के घेरे में रहता है कभी सर्वर को लेकर परेशानी तो कभी स्लॉट बुक नहीं होना आम बात है।

अब टीका की संख्या को लेकर भ्रम
लोगों को https://cgteeka.cgstate.gov.in/ की वेबसाइट में टीकाकरण हेतु टीका केंद्र का स्लॉट 3 दिन से नहीं बुक होने पर प्रमुख सचिव अलोक शुक्ला से दिनांक 20 मई 2021 जानकारी चाही गयी, जिसमे उन्होंने बताया केंद्र सरकार से मिली वैक्सीन ख़त्म हो गई, हमें केंद्र सरकार से अगली खेप मिलने का इन्तजार करना होगा। ये बात सही प्रतीत भी होती है। लेकिन अगले ही दिन आज जनसम्पर्क ने विज्ञप्ति जारी कर 18-44 वर्ष के लिए 1.25 लाख वैक्सीन उपलब्ध होने और लगाए जाने की बात कह दी। किसकी बात सही मानी जाए?,
सवाल उठते है कि
१. प्रमुख सचिव सही बोल रहे हैं?
२. जनसम्पर्क की विज्ञप्ति सही है ?
४. क्या नई खेप आयी जिसकी जानकारी प्रमुख सचिव को नहीं दी गयी?
३. अगर टीका है तो वेबसाइट में स्लॉट क्यों नहीं मिल रहा है?

क्या है जनसम्पर्क विभाग की विज्ञप्ति?
छत्तीसगढ़ जनसम्पर्क की विज्ञप्ति में कहा गया है कि छत्तीसगढ़ में चल रहे टीकाकरण अभियान के तहत राज्य को प्राप्त टीकों की बूंद-बूंद का उपयोग सुनिश्चित किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि राज्य को 18 से 44 वर्ष आयुवर्ग के लिए 07 लाख 97 हजार 110 डोज़ मिली थी, जिसमें से 06 लाख 66 हजार 101 लोगों को टीके लगाए जा चुके हैं, जबकि 01 लाख 25 हजार 970 डोज़ का टीकाकरण जारी है। इस तरह इस आयु वर्ग के लिए प्राप्त टीकों में वेस्टेज डोज की संख्या केवल 5039 रही, जो कि प्राप्त टीकों का मात्र 0.6 प्रतिशत है।

इसी प्रकार 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में राज्य को 68 लाख 40 हजार 210 डोज़ मिल चुकी है। इसमें से 61 लाख 67 हजार 632 डोज का उपयोग किया जा चुका है। वर्तमान में बची हुई 06 लाख 16 हजार 970 डोज से टीकाकरण किया जा रहा है। इस आयु वर्ग में वेस्टेज डोज की संख्या केवल 56 हजार 608 है, जो कि प्राप्त डोज का केवल 0.8 प्रतिशत है। राष्ट्रीय स्तर पर डोज के वेस्टेज औसत 2 प्रतिशत की तुलना में छत्तीसगढ़ में दोनों आयु वर्गों में वेस्टेज का प्रतिशत बहुत ही कम है।

Spread the love

You may have missed