छत्तीसगढ़बड़ी खबर

BREAKING NEWS : “गोबर बना गोल्ड” …… छत्तीसगढ़ में गोबर चोरी का पहला मामला, 2 किसानों का गोबर हुआ चोरी, परेशान किसानों ने की शिकायत…. जाँच जारी…

कोरिया, 08 जुलाई 2020। छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार ने सारे इतिहास की कहावत पलट कर रख दी है. कहावत है “गुड़ गोबर हो गया” लेकिन भूपेश सरकार के एक निर्णय ने ” गोबर को गुड़” कर दिया है. छत्तीसगढ़ में गोबर अब गोल्ड बन गया. इसकी भी कीमत हो गयी है जिससे अब लोग गोबर को न केवल सम्हाल रहे हैं बल्कि गोबर की चोरी भी होना सुरु हो गयी है.

दरअसल ताजा मामला ग्राम पंचायत रोझी का है जहां 2 किसानों के बारी से गोबर की चोरी कर ली गई है परेशान किसानों ने अब इसकी शिकायत गौठान समिति से की है, जो इस मामले की जांच कर रही है। मिली जानकारी के अनुसार छत्तीसगढ़ में गोबर चोरी का पहला मामला सामने आया है कोरिया जिले के रोझी पंचायत में दो ग्रामीणों ने गौठान समिति को सूचना दी है कि उनके बाड़े से गोबर की चोरी हो गई फूलमती पति लल्ला और रिचबुदिया पति सेमलाल के बाड़े से गोबर चोरी की खबर लगते ही ग्रामीणों में हड़कंप मच गया। ग्रामीणों ने गौठान समिति अध्यक्ष को जानकारी दी कि गोधन योजना के तहत अपने बाड़े में गोबर रखे हुए थे वहीं सुबह पता चला कि बाड़े से गोबर गायब है। बता दें कि हाल ही में 5 अगस्त को भूपेश सरकार ने गोधन योजना के तहत गोबर खरीदी का पहला भुगतान हितग्राहियों को किया है, जिसके बाद अब कोरिया जिले के मनेन्द्रगढ़ के रोझी पंचायत में गोबर चोरी का पहला मामला सामने आया है फिलहाल गौठान समिति ने जांच शुरू कर दी है और ग्रामीणों से पूछताछ की जा रही है।

ज्ञात हो कि हरेली के दिन छत्तीसगढ़ शासन द्वारा किसानों के हित “गोधन न्याय योजना” को लागू किया है जिसमे किसानो से गोबर 2 रुपये किलो में खरीदा जा रहा है. जिसके बाद प्रदेश में गोबर अब कीमती हो गया है.

Spread the love