मध्य प्रदेश

अजब-गजब सरकार: लॉकडाउन में जब पूरे देश का गरीब दो वक़्त की रोटी के लिए परेशान है, सरकार ने सौंदर्यीकरण के लिए गरीबों के झोपड़ी में चला दी बुलडोजर, लोग कहते है अब कहा जाएँ।

रीवा, 05 मई 2020. केंद्र और राज्य सरकारें नागरिकों से अपील कर रही हैं कि लॉकडाउन में लोग अपने-अपने घरों में रहें और बिना ज़रूरी काम के घर से बाहर न निकलें. मगर इसी लॉकडाउन में एमपी की शिवराज सरकार ने रीवा में झुग्गियों पर बुलडोज़र चलवाकर लोगों को बेघर कर दिया. इनके घरों का सामान खुले आसमान के नीचे पड़ा हुआ है. रीवा प्रशासन की इस कार्रवाई से झुग्गीवाले ख़ासे नाराज़ हैं. इन्होंने रीवा पुलिस पर रिश्वत लेने का आरोप भी लगाया.

रीवा प्रशसान का कहना है कि तालाब का सौंदर्यीकरण किया जाना है. इसलिए अतिक्रमण हटाया गया है और लॉकडाउन की वजह से यह कार्रवाई रोकी नहीं जा सकती. लॉकडाउन में बेघर हुए लोगों की सबसे बड़ी तकलीफ़ यह है कि पाबंदियों के चलते उनकी कोई मदद नहीं कर पा रहा है.

हालाँकि जानकारों का कहना है यह भारत सरकार के गृह मंत्रालय के आदेशों का खुला उलंघन है इस वक़्त न्यायलय तक बंद है केवल जरुरी सुनवाई कर रहे है. फिर सरकार ऐसा गरीबों के साथ इस वक़्त में कैसे कर सकती है. जब देश में लोग जीवन बचाने के संघर्ष में लगे हैं उस समय जिला प्रशासन सौन्दर्यीकरण करने में जुटा है.

बता दें रीवा जिले के कई हजार श्रमिक गुजरात महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में फसे है उसे लेकर जिला प्रसाशन को कोई चिंता नहीं नजर आ रही है.

Spread the love

Comment here