छत्तीसगढ़

जरुरतमंदो और रास्ते में फसे राहगीरो को पुलिस लगातार कर रही रेस्क्यू, डीजीपी डीएम अवस्थी ने तैनात की स्पेशल हेल्प टीम, घबराएं नहीं आपात स्थिति में इन नंबरों में करें फ़ोन…… इधर लॉकडाउन तोड़ने, विदेश यात्रा की जानकारी छिपाने पर लगातार मामले दर्ज…

रायपुर, 27 मार्च 2020, राज्य शासन ने प्रदेश में लॉकडाउन के दौरान भिखारियों और निराश्रित व्यक्तियों को भोजन प्रदान करने का आदेश जारी किया है. आदेश के परिपालन में सभी जिलों में अब तक 1533 निराश्रित, भिक्षुक और जरूरतमंद व्यक्तियों का चिन्हान्कन किया गया है. पुलिस साहित विभिन्न समाजसेवी संस्थाओं की मदद से चिन्हान्कित व्यक्तियों तक निःशुल्क भोजन पहुंचाया जा रहा है.

फोटो : सत्यप्रकास पांडेय

रास्ते में फसे निराश्रित, भिक्षुक और जरूरतमंद व्यक्तियों को तत्काल सहायता उपलब्ध कराने राज्य के डीजीपी डीएम अवस्थी ने स्पेशल हेल्प टीम तैनात की है. पुलिस की इस टीम ने प्रदेश भर से कई जरुरत मंदों को तत्काल सहायता पहुंचा रही है. रेस्क्यू कर रहने और भोजन तक की तत्काल सुविधा दे रही है ताकि कोई परेशान न हो.

राज्य के डीजीपी डीएम अवस्थी ने जनता से अपील की हैं कि लॉक डाउन में नागरिकों को घबराने की आवश्यकता नहीं है आपात स्थिति में नागरिक 100 या 112 डायल कर सहायता मांग सकते हैं.

लॉकडाउन तोड़ने, विदेश यात्रा की जानकारी छिपाने पर लगातार मामले दर्ज
छत्तीसगढ़ सरकार ने भी लोगों को घर पर ही रहने की हिदायत दी. साथ ही कहा कि विदेश यात्रा की जानकारी दें. बावजूद इसके कई लोग ऐसी जरूरी जानकारी छिपा रहे हैं. अब सरकार ने भी रुख सख्त अपना लिया है. लॉकडाउन का उल्लंघन करने और अपनी विदेश यात्रा की जानकारी छिपाने वाले लोगों पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. लॉकडाउन का उल्लंघन करने और विदेश यात्रा की जानकारी छिपाने के मामले में अब तक पुलिस ने 20 मामले दर्ज कर लिए है. रायपुर, दुर्ग सहित अन्य जिलों में पुलिस ने मामला दर्ज किया है. डीजीपी डीएम अवस्थी ने सभी एसपी को ऐसे लोगों की जानकारी देने के निर्देश दिए है.

Spread the love

Comment here