बड़ी खबर

हमारे राज्य में स्थिति नियंत्रित लेकिन 14 अप्रैल के बाद यातायात के साधन शुरु हुए तो बढ़ सकता है संक्रमण- मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का प्रभानमंत्री को पत्र….

रायपुर,6 अप्रैल 2020। कोरोना वायरस को लेकर देश में दिन प्रतिदिन मरीजों संख्या बढ़ रही है, वही छत्तीसगढ़ ने समय पर कदम उठाते हुए कोरोना वायरस में अब तक पूरी तरह कण्ट्रोल बनाये हुए है. प्रदेश में अब तक 10 कोरोना वायरस से पॉजिटिव मरीज में 8 ठीक हो चुके हैं एक भी प्रदेश में अब तक मौत नहीं हुई है. 14 अप्रैल तक देश में लॉक डाउन है उसके बाद यदि ट्रांसपोर्ट खोला गया तो प्रदेश में मरीजों की संख्या बढ़ सकती है इसको लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल चिंतित है उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस विषय पर पत्र लिखा हैं.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पत्र में उल्लेख किया है कि, 4 अप्रैल तक राज्य में 1590 व्यक्तियों के टेस्ट किए गए जिनमें से 10 व्यक्ति कोरोना संक्रमण से प्रभावित पाए गए, उनमें से भी सात व्यक्ति ठीक हो चुके हैं, शेष तीन की स्थिति सामान्य बनी हुई है।
शासन की ओर से किये गए उपायों एवं अनुशासित जन के सहयोग से अभी तक स्थिति नियंत्रण में है।लेकिन देश के अन्य भागों में मरीज़ों की संख्या में वृद्धि हो रही है। जैसे जैसे टेस्ट की संख्या बढ़ेगी संक्रमितों की संख्या में निरंतर वृद्धि होने की पूरी संभावना है

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पत्र में आग्रह किया है, 14 अप्रैल के बाद ट्रेन वायु यातायात एवं अंतर्राज्यीय सड़क परिवहन आरंभ किया गया तो संभावना है कि,छत्तीसगढ़ में अन्य राज्यों से कोविड 19 के संक्रमित व्यक्ति आ सकते हैं,जिससे छत्तीसगढ़ राज्य को नई कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। अंतर्राज्यीय आवागमन को शुरु ले करने के पहले व्यापक विचार विमर्श कर ऐसे ठोस उपाय कर लिए जाएँ जिससे कि पूरे देश में कोविड 19 के प्रसार की स्थिति नियंत्रण में रखी जा सके।

साफ़ है कि मुख्यमंत्री की चिंता को देखते हुए 14 अप्रैल के बाद भी ट्रांसपोर्ट बहाल होने की उम्मीद नहीं है.

Spread the love

Comment here