May 19, 2021

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

जांजगीर की घटना: महिला ने 6 महीने की बच्ची को नदी में फेंकने के बाद खुद को भी आग लगा ली; वह अपने पति से झगड़े के बाद मायके में रह रही थी

चंपा इलाके के बीरघानी चौक में देर रात हुई घटना, पारिवारिक विवाद में घटना की आशंका
हसदेव घाट पर जाकर लड़की को हसदेव नदी में फेंक दिया, खोज जारी है, 70 प्रतिशत महिलाओं को जला दिया गया

रविवार देर रात छत्तीसगढ़ के जांजगीर में एक महिला ने 6 महीने की बच्ची को नदी में फेंक दिया और फिर घर आकर खुद को आग लगा ली। महिला को 70 प्रतिशत से अधिक जलने की स्थिति में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, लड़की की तलाश की जा रही है। घटना चांपा थाना क्षेत्र के बिरगहनी चौक की है।

जानकारी के मुताबिक, रोहिणी बाई का मामा गेलमन पुल से पहले बीरगनी चौक के पास है। करीब 8 दिन पहले पति से विवाद के चलते वह अपनी 6 महीने की बेटी के साथ मायके में रहने आ गई। बताया जा रहा है कि रात करीब 11 बजे किरण ने अपनी बेटी को हसदेव नदी के घाट पर फेंक दिया और नदी में फेंक दिया।

महिला को बिलासपुर के सिम्स रेफर किया गया,
गंभीर हालत के बाद, घर लौटकर खुद को आग लगा ली। महिला को इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया, जहां उसकी हालत गंभीर होने पर बिलासपुर के सिम्स रेफर कर दिया गया है। एसडीओपी दिनेश्वरी नंद ने कहा कि परिवार के सदस्यों ने आरोप लगाया कि रोहिणी ने अपने पति से झगड़े के कारण यह कदम उठाया। गोताखोरों की एक टीम नदी में लड़की की तलाश कर रही है।

Spread the love